ALL Cover Story Story Health Poems Editorial
“बिल्डिंग की प्लानिंग और निर्माण से जुड़ी मूलभूत बातों पर आम जनता को जागरूक करने का बीड़ा उठाया"
March 5, 2020 • Parmod Kumar Kaushik

भवन मनुष्य की मूलभूत आवश्यकताओं में से एक है। भवनों का निर्माण एक तकनीक भरा और महंगा काम है। यदि अच्छी प्लानिंग और विधिवत निर्माण की जानकारी न हो तो जगह और धन दोनों की बर्बादी होती है। दुर्भाग्य से इतने महत्वपूर्ण विषय पर आम जनता को जानकारी न के बराबर है। ग्रामीण जनता तो और भी नुकसान उठाती है, क्योंकि वहां आर्किटेक्ट और इंजीनियर उपलब्ध नहीं है। जानकारी के अभाव में व्यक्तिगत धन और राष्ट्रीय संसाधनों दोनों की बर्बादी होती है। अभी तक अनसुलझी इस समस्या के समाधान की ओर ठोस कदम ऊठाते हुए ग्राम फीना बिजनौर के इं. हेमंत कुमार ने बिल्डिंग की प्लानिंग और निर्माण से जुड़ी मूलभूत बातों पर आम जनता को जागरूक करने का बीड़ा उठाया। विगत 20 वर्षों में वे सैकडों लोगों का निस्वार्थ मार्गदर्शन कर चुके हैं। लक्ष्य पूरा न होता देख तथा और अधिक लोगों को लाभ पहुँचाने के लिए सात-आठ वर्षों से भवन तकनीक पर जनउपयोगी साहित्य की रचना कर उसे निशुल्क आम लोगों तक पहुँचाना शुरू किया। 2017 में मकान बनवाते समय ध्यान रखने वाली 125 बहुत जरूरी बातें नामक पॉकेटबुक लिखकर उसको सैकड़ों की संख्या में निशुल्क जरूरतमंदों तक पहुँचा चुके हैं। इसके बाद अपनी दूसरी पुस्तक विविध प्रकार के भवनों का परिचय एवं नक्शे को विमोचन के क्षण से ही निशुल्क कर दिया। यह सात-आठ साल के कठिन परिश्रम से तैयार हुई थी। इसका विमोचन आईआईटी रुड़की में 14 दिसंबर 2019 को हुआ था। हजारों साल से भवन निर्माण पर आम आदमी की भाषा में तकनीकी और वैज्ञानिक तथ्यों पर आधारित कोई पुस्तक उपलब्ध नहीं थी। इं. हेमंत कुमार ने वर्षों जनता के बीच रहकर अनुभव और निरंतर शोध के आधार पर इस पुस्तक को लिखा और अभाव को पूरा किया। शुरू से ही इस पुस्तक की विषयवस्तु अत्यधिक महत्वपूर्ण और अत्यंत जनोपयोगी सिद्ध हुई। इस पुस्तक की स्क्रिप्ट देखकर कई प्रकाशकों ने उन्हें लाखों रुपए की रॉयल्टी ऑफर की परंतु जनहित को प्राथमिकता देते हुए इं. हेमंत कुमार ने धन को ठुकराते हुए विमोचन के क्षण से ही सबके सबके लिए यूआरएल के माध्यम से यह पुस्तक मुफ्त कर दी। जबकि पुस्तक के निर्माण में भी अनेक प्रकार के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष खर्च आए। इस पुस्तक में उच्चकोटि की कला से सम्पन्न नक्शे दिए गए हैं जिनमें एक-एक की कीमत बाजार में हजारों है। पुस्तक के सिद्धांतों और दिए गए नक्शों को आधार बनाकर सैकड़ों तरह के भूखंडों के नक्शे बनाए जा सकते हैं। 

जनहित में उन्होंने भवन निर्माण तकनीक पर मासिक कॉलम लिखने की पहल की। फिर एक और नई पहल करते हुए भवन तकनीक जनजागरण के प्रथम और ऐतिहासिक कैंप का आयोजन शुरू करवाया। यह कैम्प 16 फरवरी 2020 को जिला स्टेडियम कर्वी जनपद चित्रकूट उत्तर प्रदेश में हुआ। इसमें विषय विशेषज्ञ तथा मुख्य वक्ता के रूप में आमंत्रित किए गए इं. हेमंत कुमार ने भवन नियोजन एवं निर्माण की 100 सर्वाधिक महत्वपूर्ण बातों पर व्याख्यान दिया। उपस्थित जनों को ई-पुस्तक का निशुल्क यूआरएल भेंट किया। लोगों की भवन से जुड़ी जटिल समस्याओं का निदान बताया तथा सूचीबद्ध लोगों को निशुल्क लाइन प्लान बनाकर दिए। कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश लोक निर्माण विभाग के राज्यमंत्री माननीय चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, पूर्व सांसद भैरों प्रसाद मिश्रा, चेयरमैन नगर पालिका चित्रकूट नरेंद्र गुप्ता, शिक्षाविद और समाजसेवी इं. नरेंद्र सिंह पटेल, जिलाध्यक्ष चंद्रकांत खरे, डॉ. रणवीर सिंह चौहान, समाजसेवी पंकज अग्रवाल, राजेश सोनी, इं. गुरु प्रसाद, डॉ. एस के त्रिपाठी, अग्रवाल, राजेश सोनी, इं. गुरु प्रसाद, डॉ. एस के त्रिपाठी, जगदीश चंद्र गौतम आदि गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। लाखों रुपए की रॉयल्टी ठुकराकर अपनी महत्वपूर्ण तथा उपयोगी पुस्तक को आम जनता के लिए यूआरएल के माध्यम से निशुल्क कर देने, भवन तकनीक जन जागरण हेतु प्रथम और ऐतिहासिक कैप आयोजित कराने, सैकड़ों लोगों को निशुल्क बिल्डिंग प्लैनिंग में मार्गदर्शन करने, तथा व्यक्तिगत भवनों के निर्माण की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए प्रयासरत रहने के लिए, इं. हेमंत कुमार को उ.प्र. लो.नि.वि. राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय तथा पूर्व सांसद भैरव प्रसाद मिश्रा ने श्रीफल तथा सम्मानपत्र देकर सम्मानित किया। इस कार्यक्रम का आयोजन चित्रकूट स्पोर्ट्स क्लब कर्वी उ.प्र. के अध्यक्ष और समाजसेवी कमलेश कुमार द्वारा किया गया। कार्यक्रम में अनेक डॉक्टर, अध्यापक, प्रबुद्ध, ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिक तथा बड़ी संख्या में बच्चों ने भाग लिया। इस पुस्तक का यूआरएल इस प्रकार है। http://hemantkumarblog.com/Enquiry.aspx