ALL Cover Story Story Health Poems Editorial
‘दी कोर' में अपना विवरण देख प्रसन्न हुए गुमनाम स्वतंत्रता सेनानी
June 20, 2019 • Parmod Kumar Kaushik

'दी कोर' के जनवरी अंक में ग्राम फीना, जिला बिजनौर के दो गुमनाम क्रांतिकारियों श्री प्रताप सैनी तथा श्री रामपाल सिंह के व्यक्तित्व-कृतित्व पर लेख प्रकाशित किए गए थे। फीना निवासी श्री समर सिंह काहिया ने दी कोर के दिल्ली स्थित कार्यालय से पत्रिका ले जाकर उनकी एक-एक प्रति क्रांतिकारियों को भेट की। पत्रिका में अपना सचित्र वर्णन देखकर दोनों क्रांतिकारियों तथा उनके परिजनों ने हर्ष जताया।

पटेल दम्पत्ति : संस्कार की चलती-फिरती पाठशाला

संस्कार एक व्यापक अर्थ वाला शब्द है। अच्छी आदतों एवं सकारात्मक सोच का विकास भी संस्कार कहलाता है। यदि कोई व्यक्ति लगातार असभ्य व्यवहार करें तो कहा जाता है कि उसके संस्कार अच्छे नहीं हैं। सुशील मनुष्य तथा सभ्य समाज के लिए बच्चों में अच्छे संस्कारों का विकास बहुत आवश्यक होता है। इसके लिए नैतिक शिक्षा की आवश्यकता पड़ती है। दुर्भाग्य से हमारी शिक्षा प्रणाली इस प्रकार की हो गई है कि उसमें नैतिक शिक्षा के लिए कोई स्थान नहीं बचा है। आज की शिक्षा का उद्देश्य अधिक से अधिक डिग्री दिलाना भर रह गया है। नैतिक शिक्षा तथा अच्छे संस्कारों के अभाव में व्यक्ति एकांगी तथा आत्म केंद्रित होता जा रहा हैइस कारण पारिवारिक, समाजिक तथा राष्ट्रीय मूल्यों में कमी आयी है। फलतः नई पीढ़ियों में सामाजिक-राष्ट्रीय उत्तरदायित्व का बोध खतरनाक स्तर तक घटा है।

नैतिक शिक्षा और अच्छे संस्कारों के महत्व को देखते हुए जनपद चित्रकूट उ.प्र. के बनाड़ी गांव के मूल निवासी नरेंद्र सिंह पटेल तथा उनकी धर्म पत्नी प्रमिला सिंह पटेल अपने क्षेत्र के बच्चों में अच्छे संस्कार विकसित करने का गंभीर प्रयास कर रहे हैं। यह दंपत्ति व्यक्तिगत साधनों से आस-पास के गांव के बच्चों के बीच जाकर शिक्षा की आवश्यकता, नशा मुक्ति, राष्ट्रभक्ति, पर्यावरण, मातृ-पितृ भक्ति, मानव सेवा, आत्मविश्वास, अंधविश्वासपाखंडों तथा जातीय घृणा जैसे विषयों पर जागरूक कर रहे हैं। अनेक बच्चे इनकी शिक्षाओं से प्ररित हुए हैं। इस दम्पत्ति ने कई गरीब बच्चों को अपने घर पर रख कर शिक्षित करने का प्रयास भी किया है। इन दोनों का व्यक्तित्व उत्कृष्ट कोटी के मानवीय गुणों से भरा है। ये दोनों अपने सेवाभाव से गरीब, बेसहारा, तिरस्कृत लोगों का दिल सहजता से जीत लेते हैं। 'दी कोर' परिवार श्री नरेंद्र सिंह पटेल तथा प्रमिला सिंह पटेल के सफल एवं सुखद भविष्य की कामना करता है।