ALL Cover Story Story Health Poems Editorial
ललित शर्मा " डॉ.वाकणकर रजत अलंकरण सम्मान" से सम्मानित
September 23, 2019 • Parmod Kumar Kaushik

भोपाल की 'कला समय संस्कृति एवं शिक्षा समिति' व 'दशपुर प्राच्य शोध संस्थान' मन्दसौर द्वारा गुरूवार रात भोपाल के स्वराज भवन में पुरातत्त्ववेत्ता डॉ. वाकणकर जन्मशती वर्ष समारोह में "डॉ. वाकणकर रजत अलंकरण" से झालावाड़ के इतिहासकार ललित शर्मा को सम्मानित किया गया। गया। शर्मा को यह सम्मान उनके हाड़ौती मालवा के राष्ट्रीय परिवेश में ऐतिहासिक खोज, लेखन तथा प्रकाशन सहित लोगों में इतिहास धरोहर के प्रति जनचेतना व सेवा को देखते हुए प्रदान किया गया। शर्मा ने विगत देखते हुए प्रदान किया गया। शर्मा ने विगत 27 वर्षों में 13 शोध पुस्तकें तथा 1,700 से अधिक लेखों के साथ मालवा के शाजापुर जिले के इतिहास व पुरातत्त्व पर कार्य कर मालवा को हाड़ौती की धरोहरों से जोड़ने का कार्य किया।

समारोह में मुख्य अतिथि दशपुर प्राच्य शोध संस्थान मन्दसौर के निदेशक डॉ. कैलाशचन्द पाण्डेय एवं अध्यक्ष भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण (उत्तर भारत) के अधीक्षण पुरातत्त्ववेत्ता डॉ. नारायण व्यास ने ललित शर्मा को वाकणकर रजत अलंकरण एवं शाल पहनाकर तथा सम्मान-पत्र व प्रतीक चिह्न प्रदान कर सम्मानित किया। समारोह में मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ तथा राजस्थान के इतिहासकार एवं डॉ. वाकणकर के अनेक शिष्य भी उपस्थित थे। समारोह में पुरातत्त्वविद् डॉ. भारती श्रोती, रायपुर (छत्तीसगढ़) को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर 'कला समय' पत्रिका के "वाकणकर की कला साधना'' अंक का भी विमोचन किया गया।